वाल्मीकि विश्व महापंचायत संघ

A huge worldwide organization of valmiki community

निचे नील रंग में दी गई सचिन सर्वटे के फेसबुक पेज की लिंक को ओपन करके लाईक करे-Open below blue line link of facebook page of sachin sarvatee and hit LIKE button pngtree-finger-pointing-downwards-image_1247637-removebg-previewhttps://www.facebook.com/sachin.sarvatee.09/


photo_2019-12-24_01-52-46

 

संगठन ज्वाइन करने के लिए निचे दी गयी डिटेल्स भरे |

photo_2019-11-23_11-57-09
photo_2019-11-20_19-00-01
Jai Valmiki and Jai Bhim my dear Friends!!
Greetings from Sachin Sarvatee, International Convener, “Valmiki Vishwa Mahapanchayat Sangh”.
If, I asked to tell about this organization in less words, I would say that we as an organization bearer, neither teach hatred for any religion nor force anyone to believe in particular religion nor want to get involved in the debate that Maharishi Valmiki was from our caste/religion or not. In my views, Maharishi Valmiki was a great soul, a great poet, a compassionate saint or not lesser than the God, what difference does it make to his caste or religion? Our caste should be recognized in the name of such an important saint, it should not be less than a worry for us. His sketch of holding pen in his hand motivates us for education and so as Baba Sahib Dr. Bhim Rao Ambedkar used to emphasize on (education). For ourselves, both these personalities are equally important for upliftment of our society. In fact, more than religious propaganda, our focus is on all types of education in the society i.e. competition based preparatory education for various jobs and cultural or spiritual education (which is different from religious education and which focuses more on truth) or to promote all types of education and development skills of our society. With this we are also working on matrimonial services for our society, Getting the people of the society into other respectable occupations by leaving them disgusting work like cleaning etc. This is also our small effort to eradicate superstition, to motivate society and start an exercise to help for solving the problems of the society in every way possible. Along with it, we also focus on environmental protection and helping all living beings without seeing the differences of their caste, religion, language, color, look, gender or all other types of variations. According to the times and circumstances, new principles can be added or removed in the social interest later on.
our organization Valmiki Vishwa Mahapanchayat Sangh has just been formed a few months ago.  I understand that I am a very ordinary man who lives in Jodhpur, a city in Rajasthan, India and talking about the world is like showing a lamp to the Sun but as we were born in Valmiki society it is our first duty to talk about the development of our society and it is our basic objective to work together in the social interest by bringing like – minded peoples together on a global level. I know the world is like a vast infinite sea but If we keep the target big then only we will be able to think more or do more.

You may know that any number of billions or trillions or even more, starts from zero, we had also started from zero and soon, colleagues like you started showing interest with this the organization. Right now this organization may be like a small plant, I claim it that one day will come, when this organization may become like a huge banyan tree. (Amen)
SACHIN SARVATEE 
(INTERNATIONAL CONVENER)
VALMIKI VISHWA MAHAPANCHAYAT SANGH
Mo-9468564466, 8949283073, 
Email-sachin.sarvatee@gmail.com and mahapanchayat.valmiki@gmail.com

वाल्मीकि विश्व महापंचायत संघ के अंतर्राष्ट्रीय संयोजक सचिन सर्वटे ने मध्यप्रदेश के शिवपुरी में वाल्मीकि समाज के दो मासूम बच्चो को मारने वालो को फंसी की सजा की मांग की
———————————————————————————————————-
सेवा में
         आदरणीय श्रीमान कमलनाथ जी
         माननीय मुख्यमंत्री, मध्यप्रदेश सरकार |
विषय : शिवपुरी में दो मासूम बच्चों की हत्या करने वालो हाकिम यादव और उसके भाई रामेश्वर यादव को फांसी की सज़ा दिलाने मृतको के परिजनों को उचित मुआवजा दिलाने और उक्त गाँव में सभी दलितों के घरो में शौचालय बनवाने के संदर्भ में |
महोदय जी,   
उपरोक्त विषयान्तर्गत निवेदन है कि मध्यप्रदेश के जिले शिवपुरी के सिरसौद थाना क्षेत्र के भावखेड़ी गांव में बुधवार की सुबह पंचायत भवन के सामने शौच करने पर दो व्यक्तियों ने दो दलित बच्चों को कथित तौर पर पीट-पीटकर मार डाला है | यह दलित उत्पीडन की चरम सीमा है | मुझे अखबार व सोशल मिडिया से मिली सूचना के मुताबिक़ सिरसोद पुलिस ने दो आरोपियों हाकिम यादव और उसके भाई रामेश्वर यादव को गिरफ्तार कर लिया है | पुलिस के मुताबिक प्रारंभिक जांच में पता चला है कि घटना में दो ही व्यक्ति कथित तौर पर शामिल थे | उन दोनों द्वारा बुरी तरह पीटे जाने से दोनों बच्चों (रोशनी वाल्मीकि, 12 साल और अविनाश वाल्मीकि, 10 साल) को गंभीर चोटें आईं | इसके बाद बच्चों को जिला अस्पताल ले जाने के बाद अस्पताल के डॉक्टरों ने दोनों को मृत घोषित कर दिया |
पीटीआई न्यूज एजेंसी के मुताबिक मृतक अविनाश के पिता मनोज ने बताया कि, ‘दो साल पहले आरोपियों से उसकी बहस हुई थी और उन्होंने उसे जातिगत गालियां देते हुए मारने की धमकी दी थी. इसके अलावा वे चाहते थे कि मनोज कम पैसे में उनके लिये मजदूरी करे |
अविनाश के पिता मनोज वाल्मीकि ने दावा किया कि, “दोनों सुबह 6 बजे शौच के लिये निकले थे. हाकिम और रामेश्वर यादव ने उनकी लाठियों से पिटाई की, उन्होंने दोनों को तब तक मारा जब तक उनकी मौत नहीं हो गई मनोज ने बताया कि उनके और उनके परिवार के घर में शौचालय नही बनने दिया गया था | शौचालय नहीं होने की वजह से परिवार को बाहर जाकर शौच करना पड़ता था हालाँकि उनके घर पर शौचालय बनने के लिये पंचायत के पास पैसा भी आ गया था लेकिन “इन लोगों ने उसे बनने नहीं दिया.” उनका यह भी दावा है कि इन लोगों की वजह से गांव में उनके परिवार के साथ बदसलूकी की जाती थी |
अविनाश ने यह भी बताया कि दो साल पहले उन्होंने गांव में अपनी झोपड़ी बनाने के लिये सड़क से लकड़ी काट ली थी उसके बाद से अभियुक्तों ने उनसे दुश्मनी पाल ली थी, वह उनके साथ गाली-गलौज करते रहते थे और वह उन्हें धमकाते भी थे और मज़दूरी कम देते थे | मनोज के पास कोई ज़मीन नही है और उनका पूरा परिवार मज़दूरी करके ही गुज़र-बसर करता था |
हालाँकि पुलिस ने दोनों आरोपियों पर हत्या और अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति (अत्याचारों की रोकथाम) अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया है, परन्तु हमारी मांग है कि मामले की गहन जांच हो और आरोपियों को फांसी की सजा दी जाए ताकि भविष्य में ऐसी घटनाओं की पुनरावृत्ति न हो | साथ ही हमारी मांग है कि मृतको के परिजनों को उचित मुआवजा दिया जाए और उक्त ग्राम में सभी दलितों के घरो में शौचालय का शीघ्र निर्माण करवाया जाए | इसी आशा एवं विश्वास के साथ | धन्यवाद !!
भवदीय
सचिन विष्णुदेव सर्वटे
अंतर्राष्ट्रीय संयोजक-वाल्मीकि विश्व महापंचायत संघ
वेबसाईट https://valmikimahapanchayat.wordpress.com/

WhatsApp Image 2019-09-26 at 4.22.20 PM

photo_2019-09-03_18-41-54photo_2019-09-03_18-41-50

photo_2019-08-20_17-47-25

photo_2019-08-20_17-45-38

photo_2019-08-18_06-39-46

वाल्मीकि विश्व महापंचायत संघ और राष्ट्रीय वंचित लोक मंच सहित सभी सेवाओ के बारे में जानिए
4086621-pointing-finger-icon-png-234777-free-icons-library-hand-pointing-png-512_512_previewTo Contact Sachin Sarvatee click here (सचिन सर्वटे – से संपर्क करने के लिए यहाँ क्लिक करे)  
—————————————————————————————————–
🌹🙏 *परम आदरणीय साथियो* 🙏🌹
—————————————————————————————————–
वाल्मीकि विश्व महापंचायत संघ, संगठन के इस वेबसाईट को फॉलो व लाईक करने वाले सभी दोस्तों का स्वागत है | लेख थोडा लम्बा है लेकिन बहुत महतवपूर्ण है कृपया पूरा पढने का श्रम करे |
हमारा यह संगठन वाल्मीकि विश्व महापंचायत संघ, अभी निर्माणाधीन है, मैं समझता हूँ की *मैं एक अति साधारण मनुष्य हूँ जो भारत के राजस्थान के एक शहर जोधपुर में रहता हूँ और विश्व स्तर की बात करना सूर्य को दिया दिखाने के समान है | विश्व विशाल समुन्द्र की तरह अथाह है | यदि लक्ष्य बड़ा रखेंगे तभी हम कुछ ज्यादा सोच पायेंगे या ज्यादा कर पायेंगे क्योंकि गिनती चाहे अरबो, खरबों, करोडो, लाखो, हजारो या सौ की भी क्यों न हो उसे शुरू जीरो (0 अंक) से होना पड़ता है |
 हमने भी शुरुआत जीरो से की है और देखते ही देखते आप जैसे साथियों ने इसमें तेजी से रूचि दिखानी शुरू की है इसके लिए आपका शुक्रिया | यह संगठन अभी नन्हा सा पौधा है लेकिन मेरा दावा है कि यह एक दिन विशाल बरगद के पेड़ की तरह फैलेगा |साथियों, कई वर्षो से एक लम्बी बहस छिड़ी हुई है की वाल्मीकि जी हमारी जाति से थे या नहीं ? कुछ लोग कहते है की यह धर्म विशेष की एक साज़िश है, हमारी जाति को उस धर्म से जोड़कर रखने की |
हम इससे अलग हटकर बात करते है | विश्व विख्यात ज्ञान के सूर्य के प्रतिक बाबा साहेब डॉ भीमराव आंबेडकर ने संविधान में धार्मिक स्वतंत्रता को अधिकार के रूपमे माना है, इसलिए हम इस बात पर बहस करके समय या उर्जा नष्ट नहीं करना चाहते की कौन क्या है | इस संगठन का मूल उद्देश्य समाज में शिक्षा, एकता और जागरूकता फैलाना है | वाल्मीकि जी एक महँ कवि या लेखक के साथ ज्ञान और ईश्वर की साधना में लीन एक महात्मा सन्यासी भी थे | अब इससे क्या फर्क पड़ता है की वे किस धर्म-जाति के थे |
कबीर साहब का एक दोहा है की ” जात न पूछे साधू की पूछ लीजिये ज्ञान, मोल करो तलवार का पड़ी रहन दो म्यान” हमें उनकी जाति से अधिक उनके किये गए जप तप और साधना से है |
आज भी भारतीय समाज में यदा कदा भंगी, हरिजन आदि को घ्रणित दृष्टि से देखा जाता है और ऐसा करने वाले अधिकतर हाई सोसायटी के लोग है | उदहारण के तौर पर बोलीवूड के कई स्टार्स इन शब्दों को घृणास्पद भाव को बताने के लिए प्रयोग करते देखे गए है |
मैं समझता हूँ एक जाति के रूप में यदि हमें इन घृणात्मक शब्दों की बजाय वाल्मीकि कहा जाए तो इस बात पर बहस के कोई मायने नहीं रहने चाहिए की वाल्मीकि जी किस जाति या धर्म के थे | आपको जिस किसी धार्मिक आस्था में रूचि रखनी है रखे | विज्ञानं को मानना है माने | हिन्दू, मुस्लिम, सिख, ईसाई, बौद्ध, जैन आदि जिस किसी धर्म के अनुसार ईश्वर में आस्था रखनी है रखे और नही रखनी है और नास्तिक रहकर जीवन बिताना है तो बिताये, यह आपकी चोइस है इसमें किसी का हस्तक्षेप उचित नहीं है लेकिन इस संगठन वाल्मीकि विश्व महापंचायत संघ और हमारे एक और संगठन राष्ट्रीय वंचित लोक मंच का एक मूल मंत्र है वो है विश्व बंधुत्व और मानवता की और बढ़ना और उस पर ही हम आस्था रखते है |
आपके मन में सवाल आया होगा कि दो अलग अलग संगठन क्यों? उसका जवाब यह है की राष्ट्रीय वंचित लोक मंच के माध्यम से संगठन से जुड़ने को हमने जाति धर्म से ऊपर उठकर सभी धर्मो जातियों में हमारा मुख्य फोकस “वंचित ” पर है और इसका कार्यक्षेत्र राष्ट्रीय स्तर तक है, जिसका मूल उद्देश्य राष्ट्रीय एकता है व शोषितों वंचितों के लिए कार्य करना है |
मैं वाल्मीकि समाज (मेहतर समाज) में पैदा हुआ हूँ इसलिए स्वजाति के विकास की बात करना मेरा प्रथम कर्तव्य है और समान विचारधाराओ वाले साथियों को विश्व स्तर पर एक करके समाजहित में कार्य करना “वाल्मीकि विश्व महापंचायत संघ” नाम के संगठन का मूल उद्देश्य है |
इस संगठन में हम न तो किसी धर्म से नफरत करना सिखाते है न किसी धर्म को मानने के लिए मजबूर करते है | दरअसल धार्मिक प्रचार से अधिक हमारा केंद्र बिंदु समाज में सभी तरह की शिक्षा यानी शैक्षणिक, विभिन्न रोजगार हेतु प्रतियोगिता की तेयारी, संस्कारिक या आध्यात्मिक (ये धर्म से भिन्न होती है जो सत्यता की और केन्द्रित होती है) आदि सभी तरह की शिक्षा का प्रचार प्रसार करना |
अंधविश्वास मिटाने, समाज को मोटिवेट करने और हर तरह से समाज बंधुओ की समस्याओं को सुलझाने में मदद करने की कवायद शुरू करने का होता है, इसके साथ ही पर्यावरण सुरक्षा व जीव मात्र की जाति धर्म, वेश, भाषा, रंग रूपों, लिंग या अन्य सभी प्रकार की विभिन्नताओ को दरकिनार करके बस सेवा करना व मनुष्यों के साथ साथ समस्त अन्य जीव जन्तुओ पर भी दया व उनकी मदद करने का भाव रखना है | आगे वक्त और परिस्थितियों के अनुसार समाजहित में नए सिद्धांत जोड़े या हटाये भी जा सकते है |
लेख बहुत लंबा था फिर भी आपने पूरा पढ्ने मे रूचि दिखाई इसके लिए मैं आपका हृदय से आभारी हूँ |
भूलवश कहीं कोई त्रुटी रह गई हो या मैं अपने तर्क वितर्क या विचारो से आपको संतुष्ट नहीं कर पाया होऊं तो कृपया मुझे क्षमा करे और अपने अमूल्य विचार या सुझाव निम्नलिखित संपर्को के माध्यम से देकर मुझे अनुग्रहित करे |
आपका अपना
*सचिन विष्णुदेव सर्वटे*
अंतर्राष्ट्रीय संयोजक
*वाल्मीकि विश्व महापंचायत संघ*
Email- mahapanchayat.valmiki@gmail.com
वेबसाइट – https://valmikimahapanchayat.wordpress.com/
==========================================================
मेरी अन्य निजी जानकारियाँ
सचिन विष्णुदेव सर्वटे
(पूर्व उपाध्यक्ष)
राज्य सफाई कर्मचारी आयोग, राजस्थान सरकार
*Personal Email* – sachin.sarvatee@gmail.com
*मोबाइल* -9468564466 (WhatsApp/Telegram व पर्सनल नंबर)
                 8949283073 (ओफिसियल नंबर)
*शिक्षा* : B.A., B.Ed. M.A. व तीन वर्षीय इंजीनियरिंग डिप्लोमा
              (इलेक्ट्रोनिक्स), आगे और शिक्षा जारी है ————————————————————————————————– (राष्ट्रीय अध्यक्ष)
*राष्ट्रीय वंचित लोक मंच*
*Website* – https://vanchitlokmanch.com/
*Email* – vanchitlokmanch@gmail.com
*Twitter 1*- https://twitter.com/sachin_sarvatee
*Twitter 2*- https://twitter.com/vanchitlokmanch
——————————-
*सचिन सर्वटे के विभिन्न फेसबुक पेजेस का विवरण*
*पेज – 01 पर्सनल पेज सचिन सर्वटे*
https://www.facebook.com/sachin.sarvatee.09/
*पेज – 02 पर्सनल पेज- कांग्रेस सम्बन्धी (निजी पेज)*
https://www.facebook.com/sachinsarvateefans/
*पेज – 03 पर्सनल पेज सचिन सर्वटे द्वारा गाये गये गीत का पेज*
https://www.facebook.com/world.of.Sachin.sarvatee/
*पेज – 04 मोटिवेशन पेज सचिन सर्वटे
https://www.facebook.com/inspirethelife/
*वेबसाईट – शिक्षा सम्बन्धी सचिन सर्वटे की वेबसाइट*
https://vanchitlokmanch.com/mission_sachinsarvatee/
*सचिन सर्वटे के गाये गीतों की यु-ट्यूब चेनल की लिंक*
https://www.youtube.com/channel/UCdshZR4r1RW9ZybtZ67QWlw/
*सचिन सर्वटे के संगठन की यु-ट्यूब चेनल की लिंक*
https://www.youtube.com/channel/UCBmuSjnpm5UOHIgb7xMdT0g/
हमारे शिक्षा के व्हाट्स एप ग्रुप -1 से जुड़ने की लिंक निचे है*
https://chat.whatsapp.com/AM0jiaAEd6IAYGK7H4YPAQ/
*हमारे शिक्षा के व्हाट्स एप ग्रुप -2 से जुड़ने की लिंक निचे है*
https://chat.whatsapp.com/AdlVvDJN4xLJNoFJ5S8Sio ———————————————————————————————
*अति महत्वपूर्ण लिंक्स*
*1. (Link for Job Alerts/Vaccancy) रोजगार के लिए इस लिंक को क्लिक करे*
http://www.freejobalert.com/
*2. (Study Materials) शिक्षा सामग्री के लिए निम्न लिंक क्लिक करे*
https://vanchitlokmanch.com/mission_sachinsarvatee/
*3. हमारी ऐप डाऊनलोड करने के लिए निम्न लिंक क्लिक करे*
https://drive.google.com/open…
*4. सचिन सर्वटे से संपर्क करने के लिए लिंक (To contact Sachin Sarvatee*
https://chat.whatsapp.com/C2OEMCWiazT7TEPNc0GdX9/
*हमारा यू ट्यूब चेनल-1*
http://www.youtube.com/channel/UCdshZR4r1RW9ZybtZ67QWlw/
*हमारा यू ट्यूब चेनलl-2*
http://www.youtube.com/channel/UCBmuSjnpm5UOHIgb7xMdT0g/
*हमारे संगठन वाल्मीकि विश्व महापंचायत संघ के व्हाट्स एप ग्रुपो की लिंक निचे दी गयी है, कृपया किसी एक ही ग्रुप में एड होइएगा|*
*व्हाट्स एप ग्रुप -2*
https://chat.whatsapp.com/LDSc8wXrBBeHUauRsmubKD/
*व्हाट्स एप ग्रुप -1*
https://chat.whatsapp.com/KPC3zg5qekD1Ck98CfZs9f/
———————————————————————————————————————
मेरा लक्ष्य : जीवन में ईमानदारी व सभी धर्मो में बताये गए ईश्वर के प्रतिको को एक ही परब्रह्म मानकर उनमे आस्था रखते हुवे, आत्मिक व आंतरिक मार्गदर्शन से जन जन की सहायता उनकी जाति धर्म, समुदाय, रंग रूप, वेश भूषा, रहन सहन, भाषा, संस्कृति, निवास स्थान, देश आदि में भेदभाव किये बगैर करना |– (सचिन सर्वटे)*
———————————————————————————————————————
नोट : इस मेसेज को ब्रोडकास्ट करने के कारण यदि भूलवश किसी ऐसे व्यक्ति को या ग्रुप में ये मेसेज सेंड हो गया हो जिसका दिए गए विषय से कोई सम्बन्ध न हो तो कृपया क्षमा करे व मेसेज को नजरअंदाज़ करे | *
🙏🌹💐🙏🙏🙏💐🌹🙏

——————————————————————————————————————-

सेवा में
         परम आदरणीय श्री रामनाथ कोविंद जी
         माननीय महामहिम राष्ट्रपति महोदय, भारत सरकार, नई दिल्ली | विषय : बोलीवूड एक्टर सलमान खान व शिल्पा शेट्टी के बाद अब ऐक्ट्रेस सोनाक्षी सिन्हा व एंकर सिद्धार्थ कानन द्वारा भंगी शब्द को हीनता को दर्शाने के लिए इस्तेमाल करने के सन्दर्भ में | महोदय जी,
उपरोक्त विषय में निवेदन है कि 23 जुलाई 2019 को बोलीवुड एक्ट्रेस सोनाक्षी सिन्हा ने एंकर सिद्धार्थ कानन के साथ इंटरव्यू किया था l उसमें इन दोनों ने अनुसूचित जाति की एक उपजाति के लिए प्रयुक्त भंगी शब्द का इस्तेमाल हीन व गन्दा दिखने वाले भाव के रूप में किया है l हालांकि सोनाक्षी सिन्हा ने अपने ट्विटर एकाउंट से माफीनामे की एक पोस्ट https://twitter.com/sonakshisin…/status/1158096980616372228… पर पोस्ट करके वाल्मीकि समाज से क्षमा मांग ली है lअभी कुछ समय पहले ही इस यूट्यूब लिंक https://www.youtube.com/watch?v=5K8trhGjkIg के द्वारा ज्ञात हुआ था की Zee Bollywood ETC चेनल में एक इन्टरव्यू में बोलीवूड एक्टर सलमान खान ने अपने डांस सलेक्टर द्वारा दिए गए स्टेप्स की बुराई करते हुवे कहा था की इसमें तो “मैं भंगी लगूंगा” और इसी प्रकार UTV STARS चेनल की एक पत्रकार को उसके सवाल के जवाब में बोलीवूड ऐक्ट्रेस शिल्पा शेट्टी द्वारा अपने आपको गन्दी दिखने के भाव को बताने के लिए यह कहा गया की “मै भंगी की तरह लग रही थी”, बोलीवूड एक्टरो द्वारा की गयी ये टिप्पणियाँ जाति विशेष के लिए उनके हीन दृष्टिकोण को दर्शाता है |इतने बड़े सेलेब्रिटी यह क्यों भूल जाते है की जिस जाति की वे तौहीन कर रहे है उस जाति में भी उनके लाखो फेन हैं | मैं आपके संज्ञान में लाना चाहता हूँ कि भारत के महामहिम पूर्व राष्ट्रपति महोदय ने भारत के सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय के पत्र क्रमांक 17020/64/2010-SCD (R.L.Cell) दिनांक 22-11-2012 के मार्फ़त सभी राज्य एवं केंद्र सरकारों के मुख्य सचिवो को सर्क्युलर जारी कर सरकारी कामकाजो में हरिजन शब्द के इस्तेमाल पर तुरंत रोक लगाने का आदेश जारी किया था | मेरा सुझाव है की उपरोक्त हरिजन शब्द के सन्दर्भ में निकाले गए सर्क्युलर की तरह ही कृपया आप भारत के समस्त राज्यों को एक सर्क्युलर जारी करके भंगी शब्द के इस्तेमाल पर भी रोक लगवाए और हरिजन शब्द के इस्तेमाल पर लागू होने वाले सभी प्रावधानों को भंगी शब्द के इस्तेमाल पर भी लागू कराने का श्रम करावे, साथ ही आपसे करबद्ध निवेदन है कि समस्त राज्यों में अनुसूचित जातियों की सूचि में उपजाति के रूप में अभी भी भंगी शब्द का इस्तेमाल किया जाता है |
अत: कृपया अनुसूचित जाति की सूचि में से भंगी शब्द को हटाने की कृपा करावे और कृपया उस सर्कयुलर की सुचना सभी अखबारों, टीवी, सोशल मिडिया पर भी जारी करावे | कृपया शीघ्र से शीघ्र आवश्यक कार्यवाही करवाकर हमें अनुग्रहित करवाए | इसी आशा एवं विश्वास के साथ | भवदीय
सचिन विष्णुदेव सर्वटे
(अंतर्राष्ट्रीय संयोजक-वाल्मीकि विश्व महापंचायत संघ)प्रतिलिपि : आवश्यक सूचनार्थ एव कार्यवाही हेतु :
1 श्री नरेन्द्र मोदी-माननीय प्रधानमंत्री, भारत सरकार, नई दिल्ली |
2.श्री अध्यक्ष महोदय, राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग, नई दिल्ली |
3 श्री अशोक गहलोत, माननीय मुख्यमंत्री राज. सरकार, जयपुर |
4. श्री सचिन पायलट, उपमुख्यमंत्री राज. सरकार, जयपुर |
5. सम्बंधित सभी व्यक्तियों, सोशल मिडिया एवं समस्त सम्पादक महोदय को
सूचनार्थ एवं सादर प्रकाशनार्थ प्रेषित |
photo_2019-08-06_19-47-01
  1. वाल्मीकि विश्व महापंचायत संघ से सम्बंधित वेबसाईट की लिंक निचे है :-
          https://valmikimahapanchayat.wordpress.com/
     2. वाल्मीकि विश्व महापंचायत संघ से सम्बंधित वेबसाईट की लिंक निचे है :-
         https://www.facebook.com/valmikimahapanchayat/

वाल्मीकि समाज के अंतरराष्ट्रीय संगठन #वाल्मीकि #विश्व #महापंचायत #संघ से जुड़ने के लिए नीचे दी गई उसके फेसबुक पेज की लिंक को खोलकर इस पेज को लाईक करे ताकि वाल्मीकि समाज की युवाओं हेतु वैवाहिक रिश्तो, शिक्षा, रोजगार, सामाजिक, राजनैतिक, आर्थिक उत्थान हेतु जानकारियां मिलती रहे। #निचे #दी #गी #लिंक #को #ओपन #करके #लाईक #बटन #दबाये |
(इसे सभी जगह फारवर्ड करे)

For upliftment of Valmiki Community Join this a huge growing upcoming world wide Valmiki organization ” VALMIKI WISHWA MAHAPANCHAYAT SANGH” . For educational, employment, social, political, economical informations please this page through below given link. Also share this information everywhere.

https://www.facebook.com/valmikimahapanchayat/

राष्ट्रीय वंचित लोक मंच के अंतर्गत आने वाले राष्ट्रीय वाल्मीकि महापंचायत संघ को भंग कर दिया गया है और उसके सभी पदाधिकारियों को इस नए संगठन वाल्मीकि विश्व महापंचायत संघ  में समायोजित कर दिया गया है |

भवदीय
सचिन सर्वटे
अंतर्राष्ट्रीय संयोजक- वाल्मीकि विश्व महापंचायत संघ
राष्ट्रीय अध्यक्ष-राष्ट्रीय वंचित लोक मंच
मो-9468564466, 8949283073
Email-vanchitlokmanch@gmail.com
सोशल मिडिया विज्ञप्ति
वाल्मीकि विश्व महापंचायत संघ का हुआ गठन
सचिन सर्वटे बने अंतर्राष्ट्रीय संयोजक
वाल्मीकि विश्व गौ सेवा संस्थान की कोर कमिटी की बैठक केंद्रीय कार्यालय में आहूत की गई, जिसमे वाल्मीकि विश्व महापंचायत संघ का गठन किया गया है | संस्थान की कोर कमिटी के सदस्यों द्वारा सर्वसम्मति से वाल्मीकि समाज के समाज सेवी सचिन सर्वटे को संघ का अंतर्राष्ट्रीय संयोजक बनाया गया है | नवनियुक्त संयोजक सचिन सर्वटे को सभी सदस्यों ने शुभकामनाये दी | इस अवसर पर सर्वटे ने कहा की वाल्मीकि विश्व महापंचायत संघ का गठन वाल्मीकि समाज को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर शिक्षा, कुरीतियाँ हटाने, समाज को राजनीतिक, सामजिक, शैक्षणिक रूप से जागरूक करने के उद्देश्य से किया गया है | उन्होंने कहा की इस संगठन के माध्यम से वे न सिर्फ वाल्मीकि समाज बल्कि सम्पूर्ण मानव जाति, पशु पक्षी, जिव जन्तुओ की सेवा और पर्यावरण हेतु भी कार्य करेंगे |
भवदीय
सचिन सर्वटे
अंतर्राष्ट्रीय संयोजक

photo_2019-05-27_21-57-29
20180715_173541
20180715_173552
20180715_173555
20180715_173600
IMG-20160223-WA0004

Create your website at WordPress.com
Get started